Polytechnic क्या होता है? Polytechnic में कैसे एडमिशन लें?

Polytechnic क्या होता है?

Polytechnic क्या होता है? जब एक स्टूडेंट 10वीं कक्षा पास कर लेता है तो उसके मन में बहुत से सवाल होते हैं। कि 10वीं के बार क्या करना हैं। ऐसा कौन सा Course करें जिससे उसे आसानी से Job मिल जाए। लेकिन कई बार स्टूडेंट को सही सलाह देने वाला कोई नही होता जिस कारण वह सही फैसला नही कर पाता है।

हमारे देश में आज भी आधे से ज्यादा स्टूडेंट अपने किसी दूसरे दोस्त या रिश्तेदार के बच्चे को देखकर वही कोर्स करने की ठान लेते हैं जिसकी वजह से उन्हे बाद में बहुत दिक्कत होती है। अगर आप के साथ भी यही समस्या है तो आप बिल्कुल ठीक आर्टिकल पर हैं।

इस पोस्ट में हम आपको बताने जा रहे हैं कि कैसे आप हाईस्कूल के बाद ही एक अच्छे रोजगारपरक कोर्स में एडमिशन ले सकते हो। जिससे आपको आसानी से एक अच्छी जॉब मिल जाऐ। हम इस लेख में आपको बताऐंगे Polytechnic के बारें में। Polytechnic क्या होता है? Polytechnic में कैसे एडमिशन लें? और इसकी फीस कितनी होती है आदि।

Polytechnic क्या होता है? Polytechnic का मतलब क्या होता है?

Polytechnic दो शब्दों Poly और Technic से मिलकर बना है। Poly अर्थ बहु या बहुत से होता है। वहीं Technic का अर्थ कला या शिल्प से होता है।

जो स्टूडेंट इंजीनियरिंग के क्षेत्र में जाना चाहते हैं उन स्टूडेंट्स के लिये Polytechnic एक बहुत लोकप्रिय कोर्स है। इसे डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग (Diploma in Engineering) के नाम से भी जाना जाता है। यह कोर्स आप 10 वीं के बाद कर सकते हो। 10वीं के बाद ये कोर्स 3 साल का होता है। वहीं आप इस कोर्स को इंटर के बाद करते हो तो यह 2 वर्ष में पूरा हो जाता है।

वहीं Polytechnic का कोर्स करने के बाद अगर आप बीटेक में एडमिशन लेना चाहते हो तो आपको लेटरल एंट्री के जरिये बीटेक के सीधे दूसरे वर्ष में एडमिशन मिल जाता है। यानी 4 साल का बीटेक केवल 3 साल में हो जाता है। ये भी जरूर पढ़ें:— बीटेक (B.Tech) क्या है? कैसे करें? | इंजीनियर कैसे बनें?

Polytechnic को आसान भाषा में ऐसे समझ सकते हैं अगर बीटेक इंजीनियरिंग की बेचलर डिग्री है तो Polytechnic इंजीनियरिंग का डिप्लोमा होता है। इस कोर्स में बहुत सारे ब्रांच होते हैं जैसे सिविल इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग, इलैक्ट्रीकल इंजीनियरिंग आदि।

पॉलिटेक्निक एक जूनियर लेवल इंजीनियरिंग कोर्स है। इस कोर्स को करने वालों को इंजीनियरिंग के डिप्लोमा का सार्टिफिकेट दिया जाता है वहीं बीटेक करने वाले छात्रों को डिग्री का सर्टिफिकेट दिया जाता है। पॉलिटेक्निक करने के बाद जूनियर इंजीनियर के पद पर नौकरी मिलती है।

Polytechnic करने के लिये योग्यता

पॉलिटेक्निक करने के लिये आपको 10वीं क्लास विज्ञान, गणित और अंग्रेजी विषयों के साथ कम से कम 35 फीसदी अंको के साथ पास करनी होगी। वहीं अगर आप 12वीं के बाद पॉलिटेक्निक में ए​डमिशन लेना चाहते हो तो आपको पीसीएम (फिजिक्स, कैमिस्ट्री और मै​थ) विषयों से इंटरमीडियेट पास करनी होगी। वहीं आईटीआई कोर्स करने वाले छात्र भी पॉलीटेक्निक की कुछ ब्रांच में एडमिशन ले सकते हैं। हाईस्कूल यानी 10वीं के बाद ये डिप्लोमा 3 साल का होता है वहीं 12वीं के बाद यह 2 साल का होता है।

Polytechnic में एडमिशन कैसे लें?

पॉलिटेक्निक (Polytechnic) के लिये राज्य स्तर पर प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जाता है। वहीं कई यूनिवर्सिटीज में इसके लिये प्रवेश परीक्षा आयोजित करती हैं। आपको किसी भी एंट्रेस एग्जाम को पास करना होता है। एंट्रेस एग्जाम में आपके जितने अच्छे नंबर आयेगे आपको उतनी ही अच्छी रैंक मिलेगी।

प्रवेश परीक्षा पास करनें के बाद आपकी कांउसलिंग होती है। इस कांउसलिंग में आपको अपने मन के कुछ कॉलेज और ब्रांच को भरना होता है। फिर आपकी रैंक के आधार पर कॉलेज और ब्रांच का एलाटमेंट कर दिया जाता है। अगर आपके मार्क्स अच्छे हैं तो आपको मनपसंद कॉलेज और मनपसंद ब्रांच मिल जाती है। इसलिये अगर आप Polytechnic में एडमिशन लेने की सोच रहे हैं तो प्रवेश परीक्षा की अच्छी तैयारी कर लें।

Polytechnic के अन्तगर्त आने वाली पॉपूलर ब्रांच

ब्रांच का मलतब होता है कि आप Polytechnic में किस तरह के इंजीनियरिंग फील्ड में जाना चाहते हो। Polytechnic में बहुत सारी ब्रांच होती हैं। आप अपनी रूचि के हिसाब से किसी भी ब्रांच का चयन कर सकते हो। कुछ पॉपूलरपॉलीटेक्नीक कोर्स करने के लिये टॉप इंस्टीट्यूट ब्रांच की लिस्ट ​नीचे दी गई है।

Sr. No.Polytechnic Branch Name
1Agriculture Engineering
2Architecture Engineering
3Automobile Engineering
4Chemical Engineering
5Civil Engineering
6Computer Science and Technology
7Computer Software technology
8Electrical and Electronics Technology
9Electrical Engineering
10Electrical Engineering (Industrial Control)
11Electrical Power System
12Electronic and Instrumentation Engineering
13Electronic and Telecommunication Engineering
14Food Processing Technology
15Footwear Technology
16Information Technology (IT)
17Leather Goods Technology
18Mechanical Engineering
19Mechanical Engineering (Production)
20Medical Laboratory Technology
21Mine Surveying
22Mining Engineering
23Multimedia Technology
24Packaging Technology
25Printing Technology
26Textile Technology
27Petrochemical Engineering
28Aircrafts Maintenance Engineering
29Interior Designing Technology
30Office Management and computer Engineering

Polytechnic Course की Fees कितनी होती है?

पॉलीटेक्नीक की फीस आपके द्वारा चुने गये कॉलेज मे आधार पर होती है। अगर प्रवेश परीक्षा आपने अच्छे मार्क्स के साथ पास की है तो आप को सरकारी कॉलेज मिल जाऐगा। ​सरकारी कॉलेज में पॉलीटेक्निक कोर्स की फीस 10 हजार रूपये 15 हजार रूपये प्रति सेमस्टर होती है। वहीं प्राइवेट कॉलेज में यह फीस ज्यादा होती है जो कि 30 हजार रूपये से 70 हजार रूपये प्रति सेमस्टर हो सकती है। बड़े कॉलेज में यह फीस एक लाख रूपये प्रति सेमस्टर तक होती है।

पॉलीटेक्नीक के बाद क्या करें?

पॉली​टेक्निक कोर्स करने के बाद बहुत से विद्यार्थियों को Campus Placement के माध्यम से ही जॉब मिल जाती है। वहीं कुछ विद्यार्थियों को जॉब नही मिल पाती है। जिन विद्यार्थियों को जॉब नही मिल पाती है वे स्वंय किसी कंपनी में जॉब के लिये Apply कर सकते हैं। अगर आप जॉब नही करना चाहते हैं और आगे की पढ़ाई जारी रखना चाहते हैं तो आप बीटेक में एडमिशन ले सकते हैं। आप किसी Startup में इंटरर्नशिप भी कर सकते हैं जिससे आपका प्रोफाइल मजबूत होगा।

Campus Placement क्या होता है?

कॉलेज में फाइनल ईयर के एग्जाम के समय कंपनिया अपना कैंप लगाती हैं और छात्रों का इंटरव्यू लेती हैं। इंटरव्यू के आधार पर कंपनी स्टूडेंट को जॉब आफर करती है और परीक्षा पास होने के बाद उन छात्रों को सीधे जॉब मिल जाती है।

Polytechnic के बाद जॉब कैसे मिलती है?

पॉलीटेक्निक कोर्स करने के बाद आपको किसी भी कंपनी में जूनियर इंजीनियर के पद पर जॉब मिल जाती है। कई सरकारी विभाग जूनियर इंजीनियर के पद के लिये भर्ती निकालते हैं जिनमें रेवले, भारतीय सेना, लोक कार्य विभाग, सिंचाई विभाग, GAIL (गैस अथॉरिटी आफ इंडिया लिमिटेड), NTPC (नेशनल थर्मल पॉवर कॉरपोरेशन) आदि प्रमुख हैं। वहीं प्राइवेट कंपनियों में हमेशा जूनियर इंजीनियर के पदों की मांग रहती है।

Polytechnic करने के बाद वेतन

पॉलीटेक्निक करने के बाद आपको किसी भी प्राइवेट कंपनी में शुरूआत में 20 से 25 हजार रूपये प्रतिमाह का वेतन आसानी से मिल जाता है। जो कि बाद में अनुभव के बाद बढ़ता जाता है। वहीं सरकारी विभाग में जूनियर इंजीनियर के पद 30 से 40 हजार रूपये प्रतिमाह वेतन मिलता है। ये भी प्रमोशन और अनुभव के बाद बढ़ता रहता है।

पॉलिटेक्निक डिप्लोमा प्राप्त करने के बाद आप फ्रेशर के रूप में 15 से 20 हजार रुपये प्रतिमाह प्राप्त कर सकते है, अनुभव अधिक बढ़ने पर आपका यह वेतन बढ़ता जायेगा |

Polytechnic Course करने के लिये टॉप इंस्टीट्यूट

  • अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, अलीगढ़, उत्तर प्रदेश
  • जामिया मिलिया इस्लामिया, नई दिल्ली
  • लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी, जालंधर, पंजाब
  • वीरमाता जीजाबाई टैक्नॉलॉजीकल इंस्टीट्यूट, मुंबई, महाराष्ट्र
  • इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी, नई दिल्ली

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here