कम लागत में खुद की कूरियर कंपनी कैसे खोलें, पूरी जानकारी

173

अगर आप बेरोजगार हैं और आप खुद का कोई बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो आप कूरियर कम्पनी खोल सकते हैं या किसी कूरियर कम्पनी की फ्राइंचाइजी लेकर बिजनेस शुरू कर सकते हैं दोनो ही तरीकों से आप अच्छे खासे पैसे कमा सकते हो और एक सफल बिजनेस मैन बन सकते हो। इस पोस्ट में आप जानोगे कि कैसे कम लागत में खुद की कूरियर कंपनी खोलें।

इण्टरनेट के इस दौर में कूरियर कम्पनी का काम बढ़ा है। जैसे जैसे बाजार की जगह ई—कॉमर्स कम्पनियां लेती जा रही हैं वैसे वैसे ही कूरियर कम्पनी का काम भी बढता जा रहा है। कूरियर का​ बिजनेस शुरू करने का यह एक सुनहरा समय हैं। अमेजन, फ्लिपकार्ट जैसी बढ़ी कम्पनियों के बिजनेस का पूरा श्रेय कूरियर कम्पनियों को जाता है। क्योंकि इनका काम ही ग्राहकों तक उनके प्रोडक्ट पहुंचाने का होता है। यही कारण हैं कि अब ये कम्पनियां धीरे—धीरे खुद की ही कूरियर सर्विस शुरू कर चुकी हैं। इस समय बाजार में हर महीने कोई न कोई नई ई—कॉमर्स बेबसाइट आ रही है जो लोगो को घर बैठे ही प्रोडक्ट पहुंचा रही है। ऐसे में कूरियर का बिजनेस करना एक बेहतर फैसला हो सकता है।

विषय सूची

खुद की कूरियर कम्पनी कैसे खोलें

अगर आपके पास पैसा है या फिर आपके पास कोई इंवेस्टर है जो आपके कूरियर बिजनेस में पैसा लगा सकता है तो आप खुद की कूरियर कंपनी खोल सकते हो। अक्सर ऐसा सोचा जाता है कि खुद की कूरियर कंपनी लगाने में बहुत पैसा खर्च होता है बहुत ज्यादा संसाधनों और लोगों की जरूरत होती है। लेकिन अगर आप सुनियोजित तरीके से काम करोगे तो आप कम बजट में भी एक कूरियर कंपनी खोल सकते हो।

खुद की कूरियर कंपनी खोलने के लिये आपको कुछ जरूरी कानूनी प्रक्रियाओं को पूरा करना होगा। जिसके लिये आपको पहले ministry of corporate affairs के तहत एक कम्पनी रजिस्टर्ड करनी होगी। जिसकी जानकारी आपको इस वेबसाइट पर मिल जाऐगी। इसमें बहुत ज्यादा खर्चा नही आता है कुछ हजार रूपयों में यह प्रक्रिया पूरी हो जाती है।

इसके बाद आपको किसी डेवलपर कंपनी या किसी अच्छे डेवलपर से एक साफ्टवेयर बनबाना पड़ेगा जो कि आपके पूरे काम को आनलाइन मैनेज करेगा, जैसे कि किस प्रोडक्ट की डिलीवरी कब होनी हैं कहां होनी हैं डिलीवरी स्टेटस, पेमेंट स्टेटस आदि। ये साफ्टवेयर आपकी कूरियर कंपनी के लिये सबसे जरूरी काम होगा। इसलिये इसके लिये कोई लापरवाही न दिखाऐं, किसी अच्छी कंपनी या डेवलपर से ही इसे बनबाऐं। ये काम 1 लाख से 2.5 तक बीच में हो जाऐगा। जैसे जैसे आपकी कंपनी का कारोबार बढ़ते जाऐ वैसे वैसे आप अपने साफ्टवेयर में जरूरी बदलाव कराते जाऐं और इसे बेहतर बनाते जाऐं।

सॉफ्टवेयर बनने के बाद आपका नेटवर्क बनाने का काम शुरू होता है। नेटवर्क ही आपकी कंपनी को आगे बढ़ाऐगा। आपका जितना ज्यादा बड़ा नेटवर्क होगा आप उतना ज्यादा ही बिजनेस कर पाओगे। इस बिजनेस में सबसे ज्यादा मेहनत नेटवर्क बनाने में लगती है, लेकिन आपको सुनियोजित तरीके से नेटवर्क बनाना होगा। अगर आप कम ​बजट में काम कर रहे हो तो पहले आपको अपने शहर में एक मजबूत नेटवर्क बनाना होगा। जिससे कोई भी प्रोडक्ट तेजी से आपके एरिया में डिलीवर हो सके और ग्राहकों को बेहतर सर्विस् मिल सके। धीरे धीरे आप अपने नेटवर्क को अन्य शहरों में बढाते जाइये जैसे जैसे आपका नेटवर्क बनेगा वैसे वैसे आपको बिजनेस भी बढता चला जाऐगा।

नेटवर्क बनाने के बाद अब बारी है कंपनी की लॉंचिंग की यानी उद्घाटन की। जी हां जैसे ही आपके लोकल एरिया में आपका नेटवर्क मजबूत होता है आप अपनी कंपनी की लांचिग कर सकते हो। लॉंचिंग के लिये आपको चाहिये एक अच्छा सा आफिस, दो—तीन लोगों का स्टाफ, फनीर्चर, बिजली, दो तीन कम्प्यूटर, ​इंटरनेट आदि। बस लो शुरू हो गई कूरियर कंपनी।

खुद की कूरियर कंपनी को काम कैसे मिलेगा

चूंकि आपके पास लोकल नेटवर्क है इसलिये आप केवल अपने लोकल ऐरिया मे ही डिलीवरी दे पाऐंगे, ऐसे में दिक्कत यह है कि आपको काम कैसे मिलेगा। तो इसके लिये भी आपको थोड़ा सा सुनियोजित तरीके से काम करना होगा। आपको इंटरनेट पर ऐसी ई—कॉमर्स कंपनियां सर्च करनी होगी, जिनकी डिलीवरी आपके पड़ोसी शहर में तो है लेकिन आपके यहां नही हैं। उन कंपनियों से आप सम्पर्क कर सकते हैं वो कंपनियां आसानी से आपके साथ काम करने को तैयार हो जाऐंगी क्योंकि उन्हे भी अपना बिजनेस बढ़ाना हैं। जैसे ही आपको 5—7 कंपनियों का काम मिलेगा, आप बिजनेस बढ़ना शुरू हो जाऐगा। इसके बाद आप एक एक करके अन्य शहरों में अपना नेटवर्क बढ़ाते जाइये। आपके कई दोस्त, रिश्तेदार होंगे जो कि बेरोजगार हैं कोई काम करना चाहते हैं आप उन्हे अपनी कूरियर की फ्रेंचाइजी देते जाइये, धीरे—धीरे आपके पास लोग फ्रेंचाइजी के लिये सम्पर्क करना शुरू कर देंगे।

खुद की कूरियर कंपनी शुरू करने का ये सफर ​थोड़ा लंबा जरूर चलेगा लेकिन सुनियोजित तरीके से आप करते जाइये आने वाले कुछ सालों में आपकी कूरियर कंपनी एक बड़ी कंपनी बन जाऐगी।

कूरियर कंपनी के लिये पैसों का जुगाड कैसे करें

किसी भी बिजनेस को शुरू करने के लिये पैसों की सबसे ज्यादा जरूरत होती है। अगर आप कूरियर ​कंपनी शुरू कर रहे हैं तो आपको भी कंपनी रजिस्ट्रेशन, सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट से लेकर आफिस तैयार करने में पैसे खर्च करने पढेंगे। इन सब कामों के लिये आपको कम से कम 4 से 5 लाख रूपये का ​बजट चाहिये होगा। कंपनी शुरू होने के बाद तो इंवेस्टर मिल जाते हैं लेकिन शुरू होने से पहले कोई भी बिजनेस में पैसा लगानें को तैयार नही होता। ऐसे में बैंक से स्टार्टअप लोन ले सकते हैं। लेकिन आज कल बैंकों की हालत भी खराब है और बहुत कम चांसेज होते हैं कि बैंक लोन दे। तो फिर कूरियर कंपनी के लिये फंड की जुगाड़ कैसे करें। इस समस्या को भी सॉल्व किया जा सकता है। सबसे पहले आपके पास जो भी पैसा है उसे तैयार रखें, उसके बाद अपने दोस्तों से बात करें, उनको अपने बिजनेस में शामिल करने का प्रयास करें, उनके सामने प्रस्ताव रखें कि वो जितना पैसा कंपनी में लगाऐंगे उतना ही प्रोफिट में से शेयर उनको मिलेगा। दोस्तो रिश्तेदारों से बात करने के बाद आपको जरूर कुछ लोग मिल जाऐंगे जो आपके साथ बिजनेस में सहयोग देने को तैयार होंगे। वहीं अगर वो बिजनेस में पैसा लगाने को तैयार नही होते हैं तो फिर आप उनसे उधार पैसा मांग सकते हैं। इसके अलावा आप ऐसे लोगों से भी संपर्क कर सकते हैं जो कि बिजनेस शुरू करना चाहते हैं लेकिन उनकी समझ नही आ रहा कि क्या करें। उन लोगों से मीटिंग करके आप उन्हे अपना पार्टनर बनने का प्रस्ताव दे सकते हैं। प्रयास एक बड़ी चीज है अगर आप मन से प्रयास करेंगे तो सफल भी हो जाऐंगे।